Sonam Kapoor ने की कंगना के दफ्तर में तोड़फोड़ की निंदा, कंगना बोलीं- मेरी तुलना रिया से ना करें



मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनोत ( Kangana Ranaut ) और फिल्म इंडस्ट्री में उनके सहकर्मियों के बीच जुबानी जंग जारी है। इस बार कंगना ने अभिनेत्री सोनम कपूर ( Sonam Kapoor ) पर निशाना साधा है, क्योंकि वह सुशांत मामले में आरोपी अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती ( Reha Chakraborty ) को अपना समर्थन दे रही हैं, जिन्हें कंगना ने स्मॉल टाइम ड्रगी कहकर बुलाया है।

कंगना ने गुरुवार शाम को अपने आधिकारिक अकांउट से ट्वीट करते हुए कहा, ‘माफिया बिंबो ने अचानक मेरे घर की त्रासदी के माध्यम से रिया के लिए न्याय मांगना शुरू कर दिया है। मेरी लड़ाई लोगों के लिए है। मेरे संघर्षो की तुलना किसी स्मॉल टाइम ड्रगी से न करें, जो अपने दम पर स्टार बने शख्स के टुकड़ों पर पल रही थी। ऐसा करना बंद करें।’

दरअसल, बीएमसी द्वारा अवैध निर्माण का आरोप लगाते हुए कंगना के दफ्तर को नुकसान पहुंचाए जाने के मामले पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए सोनम ने लिखा था,’आंख के बदले आंख से तो पूरी दुनिया अंधी ही हो जाएगी।’

सोनम ने अभिनेत्री दीया मिर्जा के एक ट्वीट पर अपना यह कमेंट दिया था, ‘कंगना के ऑफिस में तोड़फोड़ की निंदा करती हूं। रिया के खिलाफ उत्पीड़न और दुर्व्यवहार की निंदा करती हूं। मैं यहां किसी का पक्ष नहीं ले रही हूं, जो सही है उस पर अपनी बात रख रही हूं। याद रखें कि ऐसा आपके साथ भी हो सकता है।’

इससे पहले कंगना ने ट्वीट करते हुए कहा, ‘मैं इस बात को विशेष रूप से स्पष्ट करना चाहती हूं कि महाराष्ट्र के लोग सरकार द्वारा की गई गुंडागर्दी की निंदा करते हैं। मेरे मराठी शुभचिंतकों के बहुत फोन आ रहे हैं, दुनिया या हिमाचल में लोगों के दिल में जो दुख हुआ है, वो यह कतई मत सोचें कि यहां मुझे प्रेम और सम्मान नहीं मिलता।’ कंगना ने बॉलीवुड पर नारीवाद, कैंडल मार्च करने वाले और अवार्ड वापसी हस्तियों पर भी निशाना साधा।

उन्होंने ट्वीट में लिखा, अदालत ने महाराष्ट्र में कानून और व्यावस्था की खुली हत्या के बारे क्या कहा। इस पर फैंसी नारीवाद, बुल्लीवुड (बॉलीवुड) एक्टिविस्ट, कंडल मार्च ग्रुप और अवार्ड वापसी गैंग्स ने कोई कमेंट्स नहीं किया। बहुत अच्छा, मुझे हमेशा सही साबित करने के लिए धन्यवाद। आप सभी इसी लायक हैं, जो मैं हमेशा कहती हूं।



Source link

BMC के कंगना के दफ्तर ढहाए जाने के बाद वंशवादी शासन पर साधा निशाना



मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनोत मुंबई के पाली हिल स्थित उनके दफ्तर को बीएमसी द्वारा ढहा दिए जाने के बाद कंगना सोशल मीडिया पर फिर से सक्रिय हो गई हैं। उन्होंने लगातार ट्वीट करते हुए अब वंशवादी शासन पर निशाना साधा है।

अभिनेत्री ने किसी का नाम न लेते हुए ट्वीट किया, तुम्हारे पिताजी के अच्छे कर्म तुम्हें दौलत तो दे सकते हैं, मगर सम्मान तुम्हें खुद कमाना पड़ेगा। मेरा मुंह बंद करोगे, मगर मेरी आवाज मेरे बाद सौ, फिर लाखों में गूंजेगी। कितने मुंह बंद करोगे? कितनी आवाजें दबाओगे? कब तक सच्चाई से भागोगे, तुम कुछ नहीं हो, सिर्फ वंशवाद का एक नमूना हो।

कंगना ने एक अन्य ट्वीट में दावा किया कि उनके दफ्तर को गिराए जाने के बाद उन्हें उनके मराठी दोस्तों की ओर से कई फोन आए हैं।

अभिनेत्री ने लिखा, मेरे कई मराठी दोस्त कल फोन पे रोए, कितनों ने मेरी मदद करने के लिए अपने संपर्क का पता दिया, कुछ घर पे खाना भेज रहे थे, जिसे मैं सेक्यूरिटी प्रोटोकॉल्स के चलते स्वीकार नहीं कर पाई। महाराष्ट्र सरकार की इस काली करतूत से दुनिया में मराठी संस्कृति और गौरव को ठेस नहीं पहुंचानी चाहिए। जय महाराष्ट्र।

कंगना ने उनके प्रति महाराष्ट्र के लोगों की संवेदना का भी जिक्र किया और सरकार द्वारा की जा रही कथित गुंडागर्दी की निंदा भी की।

कंगना ने ट्वीट करते हुए कहा, ‘मैं इस बात को विशेष रूप से स्पष्ट करना चाहती हूं कि महाराष्ट्र के लोग सरकार द्वारा की गई गुंडागर्दी की निंदा करते हैं। मेरे मराठी शुभचिंतकों के बहुत फोन आ रहे हैं, दुनिया या हिमाचल में लोगों के दिल में जो दुख हुआ है, वो यह कतई मत सोचें कि यहां मुझे प्रेम और सम्मान नहीं मिलता।’ कंगना ने बॉलीवुड पर नारीवाद, कैंडल मार्च करने वाले और अवार्ड वापसी हस्तियों पर भी निशाना साधा।

उन्होंने ट्वीट में लिखा, अदालत ने महाराष्ट्र में कानून और व्यावस्था की खुली हत्या के बारे क्या कहा। इस पर फैंसी नारीवाद, बुल्लीवुड (बॉलीवुड) एक्टिविस्ट, कंडल मार्च ग्रुप और अवार्ड वापसी गैंग्स ने कोई कमेंट्स नहीं किया। बहुत अच्छा, मुझे हमेशा सही साबित करने के लिए धन्यवाद। आप सभी इसी लायक हैं, जो मैं हमेशा कहती हूं।



Source link

परेश रावल बने नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा के चेयरपर्सन, राष्ट्रपति ने सौंपी यह जिम्मेदारी



बॉलीवुड के मशहूर एक्टर परेश रावल को नेशनल स्कूल आफ ड्रामा का नया चेयरपर्सन बनाया गया है। यह जिम्मेदारी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सौंपी है। उनकी इस उपलब्धि पर तमाम हस्तियां उन्हें बधाइयां दे रही है। नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से परेश रावल को बधाई देते हुए ट्वीट किया है, ***** हमें यह बताते हुए खुशी हो रही है कि माननीय राष्ट्रपति ने जाने-माने अभिनेता और पद्मश्री से विभूषित परेश रावल को एनएसडी का चेयरमैन नियुक्त किया है। एनएसडी परिवार इस लेजेंड का स्वागत करता है। वह अपने मार्गदर्शन में एनएसडी को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाएं।”

अभिनेता परेश रावल को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने एनएसडी का अध्यक्ष नियुक्त किया है। इससे पहले जाने-माने राजस्थानी कवि अर्जुन देव चरण वर्ष 2018 में एनएसडी चीफ बने थे। रावल की नियुक्ति पर केंद्रीय संस्कृति राज्य मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने भी ट्वीट कर बधाई दी। उन्होंने लिखा, “मशहूर कलाकार माननीय परेश रावल जी को महामहिम राष्ट्रपति ने नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा का अध्यक्ष नियुक्त किया है, उनकी प्रतिभा का लाभ देश के कलाकारों एवं छात्रों को मिलेगा ।हार्दिक शुभकामनाएं।”



Source link

'खाली पीली' के गाने पर लोग लाल-पीले, शर्म उनको मगर नहीं आती



-दिनेश ठाकुर
मुम्बइया फिल्म इंडस्ट्री में विवादों का मौसम चल रहा है। ‘दामिनी’ के सनी देओल की तर्ज पर कहा जाए तो ‘विवाद पर विवाद, विवाद पर विवाद, आजकल मुम्बई में कुछ हो रहा है तो बस, विवाद।’ ताजा विवाद निर्देशक मकबूल खान की नई फिल्म ‘खाली पीली’ के एक गाने को लेकर उठा है, जो हाल ही यूट्यूब पर जारी किया गया। ‘तम्मा-तम्मा’ (थानेदार) वाली तड़क-भड़क के साथ ईशान खट्टर और अनन्या पांडे पर फिल्माए गए इस गाने ‘तू जो कमर ये हिलाएगी, तुझे देखके गोरिया बियोन्से शरमा जाएगी’ के बोलों पर लोगों की भृकुटियां तनी हुई हैं। जनता के चढ़े हुए पारे का अंदाज इससे लगाया जा सकता है कि गाने को करीब सात लाख लोग डिसलाइक कर चुके हैं। सोशल मीडिया पर इसे अमरीकी पॉप स्टार बियोन्स नोल्स की शान में गुस्ताखी बताने के साथ रंगभेद से जोड़ा जा रहा है। अमरीका में रंगभेद को लेकर पहले से माहौल गरमाया हुआ है। ‘खाली पीली’ बनाने वालों को एहसास तो हो गया है कि उन्होंने यूट्यूब पर यह गाना डालकर गलत तारों को छेड़ दिया है। बियोन्स नोल्स ने अपनी बेटी ब्ल्यू ईवी के नाम के इस्तेमाल पर एक अमरीकी ईवेंट कंपनी को कॉपीराइट कानून के तहत अदालत के चक्कर कटवा दिए थे। इस जानकारी ने भी ‘खाली पीली’ वालों के होश उड़ा दिए हैं। मुमकिन है कि दो अक्टूबर को फिल्म के डिजिटल प्रीमियर से पहले गाने के बोल बदल दिए जाएं।

बेतुके बोलों वाला यह गाना कुमार और राज शेखर ने लिखा है। इस दौर के ज्यादातर गीतकार इसी तरह के गाने लिख रहे हैं। फिल्मों में गीत-संगीत कोमल भावनाओं से दूर होकर क्षणिक उत्तेजना का साधन बन गए हैं। पहले फिल्मों में गाने लिखने के लिए कवि या शायर होना जरूरी था। अब कोई भी यह काम निपटा सकता है। अश्लील और द्विअर्थी शब्दावली को लेकर आलोचना होती रहती है। इन्हें लिखने वाले चिकने घड़े हो गए हैं। सेंसर बोर्ड भी गोया ऐसे गानों को बगैर सुने हरी झंडी दिखा देता है। वर्ना ‘अपना टाइम आएगा’ (गली बॉय) में जो आपत्तिजनक शब्द था, उसे हटाया जाना चाहिए था। ‘रिंग रिंग रिंगा’ (स्लमडोग मिलिनेयर) के अंतरे की अश्लीलता जस की तस रही। यही मामला ‘कुंडी मत खड़काओ राजा’ (गब्बर इज बैक), ‘गुटुर गुटुर’ (दलाल), ‘आ रे प्रीतम प्यारे’ (राउडी राठौड़), ‘हलकट जवानी’ (हीरोइन), ‘रुकमणी रुकमणी’ (रोजा), ‘लैला तुझे लूट लेगी’ (शूटआइट एट वडाला), ‘राधा ऑन द डांस फ्लोर’ (स्टूडेंट्स ऑफ द ईयर) समेत कई और गानों के साथ रहा।

दरअसल, फिल्मों में संगीत अब साधना नहीं रहा, खालिस कारोबार बन गया है। पुराने गानों में अगर मेलोडी, सादगी और भावनाओं पर जोर था तो अब पश्चिमी वाद्यों के शोर और बेतुकी शब्दावली से काम चलाया जा रहा है। संगीत के साथ जुड़ी आस्था, कलात्मकता और आध्यात्मिकता से फिल्मी गाने काफी पहले आजाद हो चुके हैं। फिल्म संगीत सिर्फ शरीर हो गया है, आत्मा गायब है। आज के गीतकार और संगीतकार तर्क देते हैं कि इन दिनों जो पसंद किया जाता है, वे वही दे रहे हैं। जमीन से कटा उनका यह तर्क मजबूरी से ज्यादा उनके मानसिक बंजरपन को रेखांकित करता है।



Source link

अक्षय कुमार ने हुमा कुरैशी के साथ की बेयर ग्रिल्स से लाइव चर्चा, बोले रोज पीते हैं गोमूत्र



अभिनेता अक्षय कुमार ने एडवेंचरर और टीवी होस्ट बेयर ग्रिल्स के साथ इंस्टाग्राम पर एक लाइव सेशन में भाग लिया। इस मौके पर अभिनेत्री हुमा कुरैशी भी जुड़ी थी । इस दौरान उन्होंने बताया कि आयुर्वेदिक कारणोंं से उन्हें प्रतिदिन गोमूत्र पीना पड़ता है । वहीं अभिनेता रणवीर सिंह ने बेयर ग्रिल्स के साथ अक्षय कुमार के लाइव इंस्टाग्राम इंटरेक्शन में क्रैश किया और अक्षय की मूछों की जमकर प्रशंसा की।

आपको बता दें कि अभिनेता अक्षय कुमार ने फिल्म बेलबॉटम के लिए मुझे उगाई है। अक्षय कुमार ने अपने शो “इन टू द वाइल्ड” के लिए बेयर ग्रिल्स से लाइव चैट किया। इस दौरान फिल्म बेल बॉटम में काम करने वाली को स्टार हुमा कुरैशी भी जुड़ी थी। इससे पहले अक्षय कुमार और बेयर गिल्स का एक वीडियो जिसमें वे जंगलों में स्टंट करते नजर आ रहे थे सामने आया था। जिसमें बेयर ने अक्षय को हाथी की लीद की चाय दी थी। चूंकि हाथी की लीद से बनी चाय को पीना लोगों के लिए चुनौती हो सकता है। लेकिन अक्षय के लिए यह बिल्कुल भी कठिन नहीं था। क्योंकि वह रोज गोमूत्र पीते हैं । इस पर बेयर ग्रिल्स ने कहा मेरे बहुत से मेहमान ऐसा नहीं कर पाते हैं। बेयर ने बताया कि जब लोग फेमस हो जाते हैं तो वह अपने कंफर्ट जोन से बाहर काम करना बंद कर देते हैं क्योंकि उन्हें कमजोर दिखने का डर होता है।



Source link

साउथ इंडियन एक्टर प्रभास ने पर्यावरण विस्तार के लिए गोद लिया रिजर्व फॉरेस्ट



साउथ इंडियन एक्टर प्रभास ने पर्यावरण विस्तार के लिए हैदराबाद के पास करीब 1650 एकड़ में विस्तृत आरक्षित वन क्षेत्र को पूर्ण रूप से विकसित करने का निर्णय लिया है। जिसकी जानकारी खुद अभिनेता ने सोशल मीडिया के माध्यम से दी है।

प्रभास ने इस बात की जानकारी इंस्टाग्राम के माध्यम से देते हुए बताया कि 1650 एकड़ में विस्तृत आरक्षित वन क्षेत्र को विकसित करने जा रहे हैं। यह वन क्षेत्र संगारेड्डी जिला के खाजीपल्ली ग्राम परिधि में स्थित है ।जो कि दुंदिगल के काफी पास है। इस काम के लिए एक्टर ने खुद प्रभावित क्षेत्र का दौरा किया । उन्होंने बताया कि ग्रीन चैलेंज से प्रभावित होकर उन्होंने यह कदम उठाया है।

आपको बता दें कि इस समय कई बॉलीवुड सेलेब्स समाज सेवा के काम में लगे हुए हैं। सलमान खान ने भी एक गांव गोद लिया है। इसी प्रकार जैकलिन फर्नांडिस ने भी 2 गांव गोद ले रखे हैं। इसी के साथ कई स्टार जैसे सोनू सूद भी जरूरतमंदों की मदद करने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं। ऐसे में बाहुबली एक्टर प्रभास ने पर्यावरण के विस्तार के लिए एक सराहनीय कदम उठाया है।



Source link

साउथ इंडियन एक्टर प्रभास ने पर्यावरण विस्तार के लिए गोद लिया रिजर्व फॉरेस्ट



साउथ इंडियन एक्टर प्रभास ने पर्यावरण विस्तार के लिए हैदराबाद के पास करीब 1650 एकड़ में विस्तृत आरक्षित वन क्षेत्र को पूर्ण रूप से विकसित करने का निर्णय लिया है। जिसकी जानकारी खुद अभिनेता ने सोशल मीडिया के माध्यम से दी है।

प्रभास ने इस बात की जानकारी इंस्टाग्राम के माध्यम से देते हुए बताया कि 1650 एकड़ में विस्तृत आरक्षित वन क्षेत्र को विकसित करने जा रहे हैं। यह वन क्षेत्र संगारेड्डी जिला के खाजीपल्ली ग्राम परिधि में स्थित है ।जो कि दुंदिगल के काफी पास है। इस काम के लिए एक्टर ने खुद प्रभावित क्षेत्र का दौरा किया । उन्होंने बताया कि ग्रीन चैलेंज से प्रभावित होकर उन्होंने यह कदम उठाया है।

आपको बता दें कि इस समय कई बॉलीवुड सेलेब्स समाज सेवा के काम में लगे हुए हैं। सलमान खान ने भी एक गांव गोद लिया है। इसी प्रकार जैकलिन फर्नांडिस ने भी 2 गांव गोद ले रखे हैं। इसी के साथ कई स्टार जैसे सोनू सूद भी जरूरतमंदों की मदद करने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं। ऐसे में बाहुबली एक्टर प्रभास ने पर्यावरण के विस्तार के लिए एक सराहनीय कदम उठाया है।



Source link

तो क्या कंगना रनौत की चुनौती का जवाब ऑफिस तोड़ कर दिया गया? शिवसेना ने सामना में लिखा- 'उखाड़ दिया'



नई दिल्ली: एक्ट्रेस कंगना रनौत के 48 करोड़ के ऑफिस को बीएमसी ने बुधवार को तहस-नहस कर दिया। बीएमसी ने दावा किया कि कंगना रनौत के ऑफिस के अंदर अवैध निर्माण कार्य किया गया, जिसके बाद ये कार्रवाई की गई। लेकिन शिवसेना का सामना पत्र कुछ और ही इशारा कर रहा है। दरअसल, कंगना रनौत का ऑफिस टूटने के बाद शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना के फ्रंट पेज कंगना के ऑफिस की तस्वीर छापते हुए बड़े-बड़े शब्दों में लिखा है- उखाड़ दिया। शिवसेना के इस शीर्षक से साफ है कि उन्होंने कंगना रनौत की चुनौती का जवाब कुछ इस तरह दिया है।

इस खबर में कंगना रनौत के ऑफिस पर चले बुलडोजर की जानकारी दी गई है। इसके साथ ही कंगना द्वारा मुंबई की तुलना पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर वाले बयान का भी जिक्र किया गया है। साथ ही ऑफिस तोड़ने के मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट की रोक का भी जिक्र इसमें किया गया है।

शिवसेना द्वारा उखाड़ दिया हेडलाइन को कंगना के उस बयान का भी जवाब कहा जा रहा है, जिसमें उन्होंने कहा था ‘उखाड़ो मेरा क्या उखाड़ोगे?’ कंगना रनौत ने ट्वीट कर लिखा था, ‘किसी के बाप का नहीं है महाराष्ट्र, महाराष्ट्र उसी का है जिसने मराठी गौरव को प्रतिष्ठित किया है। और मैं डंके की चोट पे कहती हूं हां मैं मराठा हूं ,उखाड़ो मेरा क्या उखाड़ोगे?’

आपको बता दें कि ऑफिस टूटने के बाद से ही कंगना रनौत ट्वीट कर उद्धव ठाकरे और शिवसेना पर लगातार निशाना साध रही हैं। कंगना ने एक ट्वीट कर कहा कि शिवसेना का सोनिया सेना बना दिया गया है। कंगना रनौत ने ट्वीट कर लिखा, जिस विचारधारा पे श्री बाला साहेब ठाकरे ने शिव सेना का निर्माण किया था आज वो सत्ता के लिए उसी विचारधारा को बेच कर शिव सेना से सोनिया सेना बन चुके हैं, जीन गुंडों ने मेरे पीछे से मेरा घर तोड़ा उनको सिविक बॉडी मत बोलो, संविधान का इतना बड़ा अपमान मत करो। वहीं, इससे पहले कंगना ने मुंबई पहुंचते ही उद्धव ठाकरे को धमकी देते हुए कहा था कि आज मेरा घर टूटा है, कल तेरा घमंड टूटेगा।



Source link

आमिर खान के पानी फाउंडेशन की जल शक्ति मंत्रालय ने की सराहना



बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान और उनकी पत्नी किरण राव जल संरक्षण के लिए काम करते हैं। उन्होंने ‘पानी फाउंडेशन’ नाम से एक संस्था बना रखी है। जिसके माध्यम से वे महाराष्ट्र के सूखा प्रभावित क्षेत्रों को को जल मुहैया कराकर विकास के पथ पर अग्रसर कर रहे हैं। उनके इस एनजीओ की जल शक्ति मंत्रालय ने अपने आधिकारिक सोशल मीडिया हैंडल पर सराहना की है।

जल मंत्रालय की सोशल मीडिया अकाउंट पर लिखा है, “आज हम पानी फाउंडेशन का जश्न मना रहे हैं, जो फेमस अभिनेता आमिर खान और उनकी पत्नी किरण राव द्वारा स्थापित किया गया है, यह एनजीओ महाराष्ट्र के क्षेत्रों को सूखे से विकास और उन्नति में बदल रहा है। एनजीओ का सत्यमेव जयते वाटर कप एक सराहनीय पहल रहा है।”

इस पर अभिनेता आमिर खान ने जवाब देते हुए लिखा है थैंक यू, आमिर ने लिखा, “किरण और मैं हमारे प्रयासों को स्वीकार करने के लिए पानी फाउंडेशन के प्रत्येक सदस्य की ओर से जल शक्ति मंत्रालय को धन्यवाद देना चाहेंगे। महाराष्ट्र में सूखे के खिलाफ लोगों के आंदोलन को हाईलाइट करने के लिए धन्यवाद। यह हमारे डोनर और इस प्रयास में योगदान देने वाले प्रत्येक महाराष्ट्रीयन के सहयोग के बिना संभव नहीं था। जो इस यात्रा का एक हिस्सा रहे हैं आपके विनम्र शब्दों ने हमें आशा और शक्ति से भर दिया है। हम अपने प्रयासों में निरंतर बने हुए हैं और महाराष्ट्र में हजारों जल हीरो के साथ काम करते हुए अभिभूत महसूस कर रहे हैं। शुक्रिया।”



Source link

टूटे हुए ऑफिस को देख रो पड़ी Kangana Ranaut, तस्वीरें हुईं सोशल माीडिया पर वायरल



नई दिल्ली: सुशांत सिंह राजपूत की मौत को लेकर बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत लगातार बॉलीवुड पर निशाना साध रही थीं। लेकिन इस बीच उनकी तनातनी शिवसेना से हो गई। इसका नतीजा ये हुआ कि मुंबई स्थित कंगना के ऑफिस में बीएमसी ने तोड़फोड़ की। बीएमसी का कहना था कि कंगना के ऑफिस के अंदर अवैध निर्माण हुआ है, जिसके तहत ये कार्रवाई की गई। इस बीच गुरुवार को कंगना रनौत अपने ऑफिस की हालत देखने पहुंचीं।

कंगना रनौत ने करीब 10 मिनट तक अपने ऑफिस का जायजा लिया और उसके बाद वह वापस घर लौट आईं। अब इसकी तस्वीरें सामने आई हैं, जो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही हैं। वहीं, अपने सपनों को ऐसे बिखरा हुआ देख कंगना के चेहरे पर उदासी साफ दिख रही थी। वहीं, कई मीडिया चैनल्स ये दावा कर रहे हैं कि कंगना अपने टूटे ऑफिस को देख रो पड़ीं। बताया जा रहा है कि ऑफिस टूटने के कारण कंगना रनौत को लगभग 2 करोड़ का नुकसान हुआ है।



Source link